सीएम योगी ने यूनेस्को इंडियन-अफ्रीकन हैकाथॉन का किया उद्घाटन, आखिर कार्यक्रम के दौरान किन किन बिषयों पर हुई चर्चा।

0
559
यूपी सीएम ने यूनेस्को इंडियन-अफ्रीकन हैकाथॉन का किया उद्घाटन।
भारत अफ्रीका मजबूत संबंधों को एक नया आयाम प्रदान करने में समर्थ होगा : योगी

ग्रेटर नोएडा – गौतमबुद्ध नगर यूनिवर्सिटी में आयोजित यूनेस्को इंडिया अफ्रीका हैकथॉन 36 घंटे का नॉन-स्टॉप इवेंट शुरू हो गया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूनेस्को इंडियन-अफ्रीकन हैकाथॉन का आज उद्घाटन किया। वही उद्घाटन के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत और अफ्रीका के रिश्ते संबंधों के एक अद्भुत मिसाल है। उन्होंने कहा कि उपनिवेशवाद के खिलाफ एकजुटता विकासशील देशों के मध्य सहयोग की सच्ची भावना भारत और अफ्रीका महाद्वीप के मजबूत रिश्तों की आधारशिला रही है। भारत ने दुनिया को युद्ध नहीं बुद्ध दिया है।

आपको बता दें कि सीमा सुरक्षा बल बैंड पर देशभक्ति की धुन पर मार्च पास्ट कर रहे ये यूनेस्को इंडिया हैकाथान में शामिल होने के लिए 22 अफ्रीकी देशों के 347 युवा और करीब 200 भारतीय युवा है जो 20 समस्या विवरणों के समाधान पर काम कर रहे है। हैकथॉन का विषय जीवन है। जिसके पांच उप विषय हैं, जिसमें शिक्षा, नवीकरणीय ऊर्जा/ स्थिरता, पेयजल और स्वच्छता, कृषि और स्वास्थ्य और स्वच्छता को शामिल किया गया है। इसके अलावा एक दूसरे के संस्कृति को आगे बढ़ाना और आदान प्रदान करना भी शामिल है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा की यूनेस्को इंडिया अफ्रीका हैकाथॉन 36 घंटे का नॉन-स्टॉप इवेंट शुरू हो रहा है। दुनिया में यह अपने तरीके का एक अनुभव प्रयोग है जो कि भारत अफ्रीका मजबूत संबंधों को एक नया आयाम प्रदान करने में समर्थ होगा.

 

इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने अपने सम्बोधन में कहा कि राज्यों की सूची में उत्तर प्रदेश देश के टाप 5 राज्यों में शामिल है। साथ ही उन्होंने उत्तर प्रदेश को भारत का हृदय प्रदेश बताया, जो स्टार्टअप के क्षेत्र में एक नई पहचान बना रहा है। ये इवेंट 23 नवंबर सुबह 8 बजे से 24 नवंबर को रात 8 बजे तक चलेगा,जो अपने आप में अनूठा है। युवाओं के द्वारा जिन समस्याओं का हल निकाला जाएगा उसे पेटेंट भी कराया जाएगा। छात्रों के स्टार्टअप फंड को आर्थिक मदद भी दी जाएगी।

टीम के सदस्य 23 नवंबर को सुबह आठ से 24 नवंबर रात आठ बजे तक लगातार 36 घंटे बैठकर समस्या का हल ढूंढेंगे। हर विजेता टीम को तीन-तीन लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा। 25 नवंबर को कार्यक्रम के समापन में उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ विजेता टीम के खिलाड़ियों को पुरस्कृत करेंगे। कार्यक्रम में अफ्रीकी देशों के कुछ मंत्री व अधिकारी भी शामिल होंगे।